ग्रहों की शांति के लिए कुछ आसान उपाय क्या हैं ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


राहुल ओबरॉय

Engineer,IBM | पोस्ट किया | ज्योतिष


ग्रहों की शांति के लिए कुछ आसान उपाय क्या हैं ?


0
0




Student leader | पोस्ट किया


अगर अपने अशुभ ग्रहों के बारे में पता करना संभव ना हो, तो एक आसान सा उपाय आपके बहुत काम आ सकता है। दुर्गा मंत्र के बारे में शायद आप जानते होंगे, हो सकता है नवरात्रि के दिनों में इस मंत्र का जाप भी किया हो। पर बहुत कम लोगों को पता है कि नियमित रूप से दुर्गा मंत्र का जाप सभी नवग्रहों की शांति का एक अचूक उपाय है।

ऐसे में नियमित रूप से प्रात:काल दुर्गा मंत्र “ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे” का जाप करें। इससे नवग्रहों में जिस किसी भी ग्रह के प्रभाव से परेशानियां आ रही हों वह शांत हो जाएंगे।


आमतौर पर आपको ग्रह दोष और उनकी शांति के रत्न जड़ित अंगूठी पहनने की सलाह दी जाती है। ये आपकी राशि और नक्षत्रों के अनुसार होती है, जिसका लाभ आपको विभिन्न परेशानियों से छुटकारा प्रदान करता है, किंतु कुछ लोगों को आपने पेड़ की जड़ पहने हुए देखा होगा, ये भी एक आसान उपाय है ग्रहों की शांति के लिए। यहां हम आपको पेड़ की जड़ के आसान उपाय बताने जा रहे हैं जो ग्रहों को शांति के लिए उत्तम हो सकते हैं...


चंद्र गृह  


सफेद धागे के साथ खिरनी की जड़ प्रयोग आप चंद्र ग्रह की शांति के लिए कर सकते हैं। सोमवार चंद्र का दिन माना गया है तो आपको यह उपाय सोमवार को दिन सफेद वस्त्रों में करना होगा। 


मंगल गृह  


अनंत मूल या खेर की जड़ मंगल ग्रह के लिए उर्पयुक्त होगी। मंगल क्योंकि काफी तेज स्वभाव का ग्रह बताया गया है तो इसे लाल वस्त्रों में मंगलवार के दिन ही धारण करें। 


बुध गृह 


विधारा या आंधी झाड़ा की जड़ को बुधवार के दिन हरे धागे में पहनें। इससे बुध के अशुभ प्रभाव से आपको निश्चित ही शांति मिलेगी। 



सूर्य गृह 


बेलपत्र की जड़ लाल या गुलाबी धागे में धारण करें। इसके लिए रविवार का दिन उत्तम होगा क्योंकि रविवार सूर्य का दिन ही माना गया है।  



गुरु गृह 


शुक्र गृह 


सफेद वस्त्र में गुलर की जड़ को लपेटें इसे सफेद धागे में शुक्रवार के दिन ही धारण करें। इससे निश्चित ही आपको लाभ प्राप्त होगा। 



शनि गृह 


शमी पेड़ की जड़ को नीले कपड़े में बांधकर नीले धागे के साथ धारण करें। शमी, नीला रंग दोनों ही शनिदेव को प्रिय है। अतः इसे शनिवार के दिन ही धारण करें। 


राहु गृह 



सफेद चंदन का टुकड़ा नीले धागे में धारण करें। इसके लिए बुधवार का दिन उत्तम होगा। यह कुंडली में राहु की अशुभ स्थिति के लिए लाभकारी होगा। 


केतु गृह 


अश्वगंधा की जड़ केतु के लिए उर्पयुक्त बतायी गई है। इसे नीले धागे में गुरुवार के दिन पहनें। इसे केतु ग्रह की ओर से हो रही पीड़ा से शांति मिलेगी। 





3
0

SEO Executive | पोस्ट किया


बहतु बड्या मुझे आप का ये पोस्ट पसंद आया

Seema



0
0

Picture of the author