प्यार क्या है क्या आप मुझे विस्तार पूर्वक बता सकते हैं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Krishna Patel

| पोस्ट किया |


प्यार क्या है क्या आप मुझे विस्तार पूर्वक बता सकते हैं?


4
0




Occupation | पोस्ट किया


प्यार या प्रेम एक एहसास होता है , जो दिमाग से नहीं बल्कि दिल से होता है और इसमें अनेक भावनाओं अलग -अलग विचारो का समावेश होता है। प्रेम स्नेह से लेकर खुशी की ओर धीरे- धीरे अग्रसर होती है, ये एक मज़बूत आकर्षण और निजी जुड़ाव की भावना है जो सब भूलकर उसके साथ जाने को प्रेरित हो जाती है।

इंसान प्यार में विनम्र, कोमल, भावुक और संवेदनशील हो जाता है,प्यार बड़े से बड़े तानाशाह को पूरी तरह से बदलकर रख देता है।प्यार के आगे किसी की नहीं चलती है,प्यार जबरदस्ती से नहीं किया जाता है, जो अपने आप ही हो जाता है उसकी खबर हमें बाद में होती है।

Letsdiskuss


2
0

| पोस्ट किया


दोस्तों इस पोस्ट में आपको बताएंगे कि प्यार क्या है  कैसे होता है प्यार एक एहसास होता है जो दिमाग से नहीं दिल के साथ होता है प्यार शब्द एक ऐसा शब्द होता है जिसे सुनकर ही मन में खुशी का एहसास होने लगता है यह एक ऐसा एहसास होता है जिसे हम कभी भी नहीं खोना चाहते है प्यार पॉजिटिव एनर्जी होती है जो हमें मानसिक और आंतरिक खुशी देती है प्यार करने वालों को लोग कभी-कभी दुखों का सामना भी करना पड़ता है  प्यार एक एहसास होता है जो एक इंसान को दूसरे इंसान के प्रति होता है माता और पिता के प्रति या किसी जानवर के प्रति स्नेह को दिखाना प्रेम होता है। सच्चे प्यार की पहचान गए होती है जो किसी भी परिस्थिति में अपने साथी का साथ ना छोड़े यहीं प्रेम होता है।

Letsdiskuss


1
0

Preetipatelpreetipatel1050@gmail.com | पोस्ट किया


प्यार एक ऐसा एहसास होता है जो किसी खास व्यक्ति के लिए ही फील होता है। क्योंकि, प्यार हमेशा दिल से होता है। जिसमें किसी भी प्रकार की कोई जोर जबस्ती या सार्थ नहीं होती है। या तो केवल किसी व्यक्ति के लिए धीरे-धीरे होने वाला एहसास होता है। जिसकी ओरर व्यक्ति खिसता चला जाता है। प्रेम हमारे जीवन की सबसे बड़ी खुशी होती है क्योंकि जिससे हम प्यार करते हैं उसके साथ रहने से हमारे सारे दुख दर्द दूर हो जाते हैं।Letsdiskuss


1
0

| पोस्ट किया


आज हम आपको यहां पर प्यार क्या होता है विस्तार पूर्वक बताएंगे। प्यार उसे कहते हैं जो एक व्यक्ति को किसी दूसरे व्यक्ति से होता है इसका कनेक्शन दिल से होता है। जैसे कि माता-पिता अपने बच्चों से बिना किसी स्वार्थ से प्यार करते हैं, या फिर कोई लड़की या लड़का एक दूसरे से प्यार करते हैं। प्यार किसी के साथ जोर जबरदस्ती से नहीं किया जाता यह तो अपने आप ही हो जाता है। यह जरूरी नहीं होता है कि प्यार किसी एक इंसान से होता है  प्यार किसी से भी हो सकता है यह भेदभाव या जाति नहीं देखता क्योंकि प्यार दिल से निस्वार्थ होता है।Letsdiskuss


0
0

Picture of the author