हिन्दू धर्म मे हस्त रेखा का क्या महत्व है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Brijesh Mishra

Businessman | पोस्ट किया | ज्योतिष


हिन्दू धर्म मे हस्त रेखा का क्या महत्व है ?


0
0




Software engineer at HCL technologies | पोस्ट किया


हिन्दू धर्म में जितना लोग अपने धर्म पर विश्वाश करते है उतना ही वो अपनी कुंडली,अपनी हस्त रेखा और अपने भविष्य के सितारों पर भरोसा करते है | और उनका भरोसा ही उनके आने वाले समय को मजबूत बनाता  है | हस्त रेखा हिन्दू धर्म की सबसे प्राचीन विद्या है जो आज भी चली आ रही है | लोग हस्त रेखा पर उतना ही भरोसा करते है जितना की अपने भाग्य और भगवान्  पर |


कहते है इंसान का भविष्य उसके हाथो मे होता है | इसका मतलब है या तो उसकी हाथो कि रेखा उसका साथ दे या उसके हाथो कि मजबूती उसका साथ दे | आज हमारी बात इंसान के हाथो कि रेखाओ के बारे मे है किस प्रकार इंसान कि हस्त रेखा उसके भविष्य का निर्माण करती है और क्या बदलाव लाती है ?


ज्योतिष शाश्त्र में हस्त रेखा का बहुत बड़ा महत्व है | ऐसा माना जाता है कि हस्त रेखा इंसान के भविष्य का निर्धारण करती है व उनके भविष्य को बताती है | और अगर मनुष्य के साथ कोई घटना होने वाली है तो उसको उसके लिए आगा करती है | जिससे मनुष्य उस होने वाली घटना के दोष को कम करने का प्रयास करता है |हस्त रेखा बहुत दिलचस्प होने के अलावा इसका हमारे दैनिक जीवन  मे काफी महत्वपूर्ण स्थान है |


हाथ के मुख्य रेखाए होती है :-


जीवन रेखा

हृदय रेखा

मष्तिष्क रेखा


ये रेखा इंसान के जीवन के बारे में उसके व्यवहार के बारे में और उसके भविष्य के बारे मे बाते दर्शाती है | हस्त रेखा जितनी प्राचीन विद्द्या है उतनी ही यह दिलचस्प है | और इससे मिलने वाले भविष्य फल लोग जितना सुनना पसंद करते है उतना ही इसके बारे मे जानना चाहते है |



Letsdiskuss



10
0

System Engineer IBM | पोस्ट किया


ग्रहों की तरह ही हस्त रेखा का भी मानव जीवन पर शुभ और अशुभ प्रभाव पड़ता है | हाथो में रेखाए जितनी स्पष्ट और गहरी होंगी उतने ही जीवन में कम उतार चढ़ाव कम होंगे | हाथों में कुछ रेखाऐं बहुत स्पष्ट और बहुत खास होती है जो मानव जीवन में खास स्थान रखती है | जैसी - आयु रेखा,स्वस्थ रेखा,पढाई की रेखा,और सबसे महत्वपूर्ण मंगल रेखा |
Letsdiskuss


1
0

Picture of the author