विलियम शेक्सपीयर की किताबों में लिखी कौन सी बातें सभी को जानना चाहिए ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Ajeet Raturi

Chef (REDFORT CHINA BEIJING ) | पोस्ट किया |


विलियम शेक्सपीयर की किताबों में लिखी कौन सी बातें सभी को जानना चाहिए ?


0
0




Math and Account teacher,Ramanuj Study center in Account,Delhi | पोस्ट किया


विलियम शेक्सपीयर जिनकी कही गई एक बात बहुत प्रसिद्द है जिसमें उन्होंने यह कहा था कि "नाम में क्या रखा है" आज उनका नाम पूरी दुनिया जानती है और बड़ी ही सिद्दत के साथ लेती है । विलियम शेक्सपीयर एक ऐसा नाम है जो अपने आप में पूरा है , और ये नाम ही अपनी पहचान है । दुनिया के 'ऑल टाइम, बेस्ट सेलिंग फिक्शन ऑथर' विलियम शेक्सपीयर का जन्म दिन 26 अप्रैल को आने वाला है । 26 अप्रैल 1564 को जन्मे विलियम शेक्सपीयर ने 23 अप्रैल 1616 को इस दुनिया की हमेशा के लिए अलविदा कह दिया ।


विलियम शेक्सपीयर के बारें में :-
- विलियम शेक्सपीयर का जन्म इंग्लैंड में हुआ और 18 साल की उम्र में 26 साल की ऐनी हाथवे से उनकी शादी हो गई ।
- हाथवे 2 बेटियां और एक बेटा था, जिसमें एक बेटी बड़ी थी और 2 जुड़वाँ थे । बेटा 11 साल की उम्र में इस दुनिया को अलविदा कह कर चला गया ।
- पैसे की कमी की वजह से शेक्सपीयर ने बचपन में ही स्कूल छोड़ दिया था। वह कुछ-कुछ काम करने लगे थे ।

अंग्रेजी के कवि और महान नाटककार विलियम शेक्सपीयर की किताबों के बारें में कुछ खास बातें हैं जो सभी को जानना चाहिए 

- हर वो चीज जो चमकती है, सोना नहीं होती
- नरक में कोई नहीं है और सभी दानव यहां हैं
- सभी को प्रेम करो, कुछेक पर भरोसा करो, किसी के भी साथ गलत न करो
- खाली बर्तन ही सबसे ज्यादा शोर मचाते हैं यानी जिसके पास ज्ञान नहीं है, वही ज्यादा चिल्लाते हैं
- एक मूर्ख खुद को बुद्धिमान समझता है मगर वहीं एक बुद्धिमान खुद को मूर्ख समझता है
- प्यार अंधा होता है और प्यार में पड़े लोगों को कुछ नहीं दिखता
- सितारों में इतनी शक्ति नहीं है, जो हमारे जीवन का फैसला कर सकें, बल्कि हमारा भाग्य सिर्फ हमारे हाथों में ही है

विलियम शेक्सपीयर के कुछ प्रमुख और मशहूर नाटक हैं :-
 हैमलेट, ऑथेलो, किंग लियर, मैकबेथ, रोमियो ऐंड जूलियट, द मर्चेंट ऑफ वेनिस, द कॉमेडी ऑफ एरर्स, जूलियस सीज़र, पेरिकिल्स, सिंवेलिन, दी विंटर्स टेल, दी टेंपेस्ट।

Letsdiskuss (Courtesy : humrang )



0
0

Picture of the author