22 दिसम्बर इतिहास में क्यों ख़ास है ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Komal Verma

Media specialist | पोस्ट किया |


22 दिसम्बर इतिहास में क्यों ख़ास है ?


0
0




Fashion expert,(Daizy Enterprises ) | पोस्ट किया


कुछ दिन बहुत ख़ास बन जाते हैं, उसका कारण होता है | कई बार वो ख़ास इसलिए होते हैं, क्योकि उनमें कुछ अच्छा होता है, और कई बार कुछ ऐसी यादें उन्हें ख़ास बना देती हैं, जो लोग भूलना नहीं चाहते | आइये जानते हैं, कुछ ऐसे ही दिनों को जो 22 दिसम्बर जो इतिहास में बहुत ख़ास है |


22 दिसम्बर 1843 - इस दिन रवीन्द्रनाथ टैगोर के पिता देवेंद्रनाथ टैगोर ब्रह्म समाज में शामिल हुए थे |

22 दिसम्बर 1851 - इस दिन देश में रुड़की से पहली मालगाड़ी चलायी गयी।

22 दिसम्बर 1966 - जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जे.एन.यू.), की स्थापना "जेएनयू अधिनियम" के अन्तर्गत भारतीय संसद के द्वारा की गई |

22 दिसम्बर 1971 - इस दिन सोवियत संघ ने जमीन के नीचे परमाणु परीक्षण किया।

22 दिसम्बर 1978 - इस दिन थाईलैंड ने संविधान को स्वीकार किया।

22 दिसम्बर 1989 - रोमानिया के राष्ट्रपति चाऊशेस्क्यू का तख्ता पलट हुआ वो देश छोड़कर भाग रहे थे पर गिरफ्तार हों गए |

22 दिसम्बर 2005 - ज़हरीली गैस से हज़ारों ईरानियों को मारने के आरोप में ईरान ने सद्दाम हुसैन पर मुकदमा चलाने की मांग की।

Letsdiskuss (Courtesy : Adobe Stock )


0
0

Picture of the author