आप अपने जीवनसाथी से कैसे अलग हैं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Satindra Chauhan

| पोस्ट किया |


आप अपने जीवनसाथी से कैसे अलग हैं?


0
0





हमारी शादी भले ही हो जाती है लेकिन हम अपने जीवनसाथी से बहुत अलग होते है। क्योंकि हमारा जीवनसाथी के खान पान रहन -सहन मे काफ़ी फर्क होता है क्योंकि वह दूसरे परिवार मे जन्म लिया होता है और हम दूसरे परिवार मे दोनों के बिच बहुत सी ऐसी बाते होती ही जो मेल नहीं खाती है। कभी -कभी ऐसा भी होता है कि शादी के बाद जीवनसाथी के साथ पटरी नहीं खाती क्योंकि वह हम लड़कियो समझ नहीं पाते है और उनकी कही हुयी बाते हमारे दिल लग जाती है क्योंकि हम लड़कियां भी अपने माँ -बाप छोड़ कर ससुराल आते है और सबसे ज्यादा प्यार की उम्मीद अपने जीवनसाथी से ही करते है, और वह थोड़ा सा भी हमें नहीं समझते तो ऐसे मे हम लड़कियो बहुत बुरा लगता है।

 

Letsdiskuss


0
0

Blogger | पोस्ट किया


मै ही क्या हर कोई हर किसी से अलग फिर वह जीवन साथी ही क्यु ना हो। वह एक अलग परिवार में बड़ा हुआ है और मै अलग। हमारा रहना ,खाना  ,बात करने  का तरीका , पसंद, ना पसंद सब कुछ एक दूसरे से अलग है और यह बात आम है क्यु कि हम दोनों अलग अलग जगह से है। लेकिन यही बात हम दोनों को एक दूसरे से जोडती है वो मुझे समझने की कोशिश करते हैं और मे उन्हे। Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


हर इंसान कहीं ना कहीं किसी न किसी परिस्थितियों से अपने जीवनसाथी से अलग उनको रहना ही पड़ता है। हर जीवन साथी की पसंद है उसके जीवन में रहने वाले के साथ काफी अलग-अलग होती हैं किसी को कुछ पसंद है तो कुछ किसी को कुछ और पसंद है खानपान में ही दोनों में से किसी को और कुछ खाना पसंद है किसी को और कुछ  पसंद खाना  हैइस तरह में भी अलग होते हैं और हर जीवनसाथी की सोच एक तरह नहीं होती सबकी अलग-अलग होती है.।Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


हम अपने जीवनसाथी से ही नहीं बल्कि इस दुनिया में हर किसी से हर कोई अलग होता है। चाहे वह इंसान हो या जानवर लेकिन यहां पर हम बात करें अपने जीवनसाथी की वह हमसे अलग कैसे होते हैं क्योंकि हम लोगों का जीवन बचपन से ही अलग है जैसे कि खाना पीना रहन सहन उठना बैठना,। सब अलग होता है। जब लड़की शादी करके अपने घर से ससुराल जाती है पति के घर तो उसको समझने में वक्त लगता है यही बात हमारे जीवन साथी को समझने में समय लगता है। वे हमारी भावनाओं को नहीं समझ पाते इसीलिए वह हमसे अलग होते हैं Letsdiskuss


0
0

Picture of the author