किस देश में चूहों का मंदिर बना हुआ है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Krishna Patel

| पोस्ट किया | शिक्षा


किस देश में चूहों का मंदिर बना हुआ है?


37
0




Preetipatelpreetipatel1050@gmail.com | पोस्ट किया


चलिए जानते हैं कि कौन सा मंदिर चूहों का मंदिर है।

करणी माता मंदिर जो राजस्थान के बीकानेर जिले में स्थित है। इसमें देवी करणी माता की मूर्ति को स्थापित किया गया है। जो हिन्दू की प्रसिद्ध मन्दिर मे से एक है। ऐसा माना जाता है कि यहां करणी माता का जन्म चरण कुल मे हुआ था और यहां काफी चूहे भी रहते थे । यह बीकानेर से कम से कम 30 किलोमीटर दक्षिण दिशा में देशनोक में स्थित है। Letsdiskuss

और पढ़े- सबरीमाला मंदिर क्यों मशहूर है?


19
0

| पोस्ट किया


करणी माता के मंदिर में लगभग 25000 से ज्यादा चूहे हैं और इन चूहो माता की संतान माना जाता है यह मंदिर राजस्थान के बीकानेर से करीब 30 किलोमीटर दूर देशनोक में स्थित है इस मंदिर को मूषक मंदिर के नाम से जाना जाता है और इस मंदिर में इतने सारे चूहे हैं। क़ी जब भी कोई व्यक्ति वहां चलता है तो अपने पैर उठाने की वजह घसीट कर चलता है ताकि कोई चूहे उनके पैर के नीचे ना आ जाए नहीं तो अशुभ माना जाता है और इस मंदिर में आने वाले भक्तों को प्रसाद में चूहों का जूठन दिया जाता है इसकी खास बात यह है कि इस प्रसाद को खाने के बाद कोई भी व्यक्ति किसी प्रकार से बीमार होने का कोई खतरा नहीं रहता है।

Letsdiskuss


19
0

| पोस्ट किया


राजस्थान में बीकानेर के करीब 30 किलोमीटर के आगे देशनोक में करणी माता का मंदिर है जिसे चूहों का मंदिर कहा जाता है और इस मंदिर को मूषक मंदिर के नाम से भी जाना जाता है इस मंदिर में कम से कम 25000 से अधिक चूहे हैं जब भी इस मंदिर के अंदर जाना होता है तो पैरों को ऊपर उठाने की बजाय पैरों को घसीट कर चलना होता है ताकि चूहे पैरों के नीचे दबकर मर ना जाए क्योंकि चोरों का मरना यहां बहुत ही अशुभ माना जाता है और यहां पर लोगों को प्रसाद चूहों का जूठन दिया जाता है। और आज तक चूका जूठन प्रसाद खाने से किसी की भी व्यक्ति को कोई भी बीमारी नहीं हुई है।Letsdiskuss


19
0


क्या आप जानते हैं कि ऐसा कौन सा देश है जहां पर चूहों का मंदिर बना हुआ है शायद आपको इसकी जानकारी नहीं होगी तो कोई बात नहीं चलिए हम आपको इसकी जानकारी देते हैं। हम आपकी जानकारी के लिए बता दे की राजस्थान के बीकानेर से करीब 30 किलोमीटर की दूरी पर देशनोक पर करणी माता का मंदिर स्थित है। जहां पर केवल चूहों की ही पूजा की जाती है। इस मंदिर को मूषक के नाम से भी जाना जाता है। यदि आप इस मंदिर के अंदर प्रवेश करते हैं तो आपको अपने पैरों को धरती पर चलकर नहीं जाना पड़ेगा बल्कि पैरों को घसीट कर चलना होता है क्योंकि यहां पर चूहा की इतनी अधिक संख्या होती है कि गलती से किसी चूहे के ऊपर पर चला गया तो माता करणी नाराज हो जाती है। आपको इस मंदिर में 25000 से भी अधिक चूहा देखने को मिल जाएंगे।

Letsdiskuss


18
0

| पोस्ट किया


करणी माता का मंदिर एक प्रसिद्ध हिंदू मंदिर जो राजस्थान के बीकानेर जिले में स्थित है।इसमें देवी करणी माता की मूर्ति स्थापित है. करणी माता को मां जगदंबा का अवतार माना जाता है। यह बीकानेर से 30 किलोमीटर दूर दक्षिण दिशा में देशनोक में स्थित हैं।करणी माता का जन्म चारण कुल में हुआ. यह मंदिर चूहो वाली माता, चूहो का मंदिर और मूषक मंदिर नाम से भी प्रसिद्ध है.इस मंदिर में 25000 हजार चूहे देखने को मिलते हैं। यहां पर दूर -दूर से लोग दर्शन करने आते हैं। इस मंदिर में चूहों का जूठन भक्तों को आशीर्वाद के रूप में दिया जाता है। मंदिर में इतने सारे चूहे हैं कि आप इस बात से अंदाज़ा लगा सकते हैं की मंदिर में आप पैर को उठाकर नहीं चल सकते, बल्कि आपके पैर घसीटकर चलना होता है।वह इसलिए क्योंकि पैर उठाकर चलने से कोई चूहा पैर के नीचे ना आ जाए, इसे अशुभ माना जाता है। यहां पर आपको काले चूहो के साथ सफेद चूहा भी देखने के लिए मिल जाएगे, जिन्हें ज्यादा पवित्र माना जाता है।

Letsdiskuss


17
0

');