क्या लगता हैं आपको, Rapist को मौत की सज़ा देने से लड़कियों की सुरक्षा बढ़ जाएगी ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Urmila Solanki

BBA in mass communication | पोस्ट किया |


क्या लगता हैं आपको, Rapist को मौत की सज़ा देने से लड़कियों की सुरक्षा बढ़ जाएगी ?


0
0




Content Writer | पोस्ट किया


नमस्कार उर्मिला जी,बहुत सही सवाल हैं आपका,आपके एक सवाल का जवाब तो साफ़ हैं कि rapist को मौत कि सजा ही मिलनी चाहिए,और दूसरे सवाल का जवाब हैं कि सुरक्षा तो नहीं बढ़ेगी मगर गुनाह बेशक कम जरूर हो जाएंगे |

हमारे देश में अभी वर्तमान समय में जो चल रहा हैं ,उसको देख कर तो यहीं समझ आता हैं कि लोगो के अंदर आत्मा मर गई हैं | मनुष्य जानवर हो गया हैं | क्या किया जाए ? कुछ समझ नहीं आता | क्योंकि आय दिन ये rape की घटना सुनने मिल रही हैं |
हाँ ! रेपिस्ट को मौत कि सजा देने से लड़कियों की सुरक्षा बढ़ जाएगी और तो ये गुनाह ख़त्म हो जाएंगे |

अब आपके सवाल पर प्रकाश डालते हैं - आपका सवाल सही हैं कि मौत कि सजा से क्या लड़कियाँ सुरक्षित हैं ? तो आपको बता दे कि रेप जैसे संगीन गुनाह कि सजा सिर्फ मौत ही हो सकती हैं क्योकि ऐसा गुन्हा करने वाले को माफ़ नहीं किया जा सकता ,और रही लड़कियों की सुरक्षा की बात तो ,किसी के मरने से किसी की सुरक्षा का कोई लेना देना नहीं होता परन्तु किसी को गुनाह की सज़ा देने से गुनाह जरूर कम हो जाएंगे |

अगर ऐसे गुनाह कम होते हैं तो आप ही सोचिये लड़कियों की सुरक्षा कुछ हद तक तो बढ़ ही जाएगी | कहते हैं न - "किसी से ऊँचा होना हो तो खुद की ऊंचाई बढ़ाओ या सामने वाले को नीचे गिर दो " ये नियम हैं संसार का ,ऐसे ही अगर गुनाह की तुरंत सजा मिले तो गुनाह हो क्यों ? और जब ऐसे गन्दी सोच रखने वाले लोग इस इस दुनिया में नहीं रखेंगे तो लड़कियाँ तो सुरक्षित ही होंगी |

Letsdiskuss


26
0

Optician | पोस्ट किया


हाँ! बिलकुल सही कहा, Rapist को सिवा मौत के और कुछ नहीं मिलना चाहिए | मुझे तो ये समझ नहीं आता इतना आंदोलन होता हैं , फिर भी ये गुनाह हो रहें हैं, आखिर क्यों ? मुझे तो लगता हैं लोग जो ऐसी घटनाओं को लेकर आंदोलन करते हैं,मोमबत्तियां लेकर सड़कों पर उतरते हैं, वो सिर्फ़ इसलिए ताकि दुनियाँ उनको TV पर देखे | एक प्रकार से देखा जाये तो खुद का promotion करते हैं ,पर कोई इस के लिए आवाज नहीं उठाता |


16 दिसंबर 2012 को निर्भया घटना हुई ,उससे मानो पूरा देश एक सदमें में था | कितना कुछ हुआ उस बीच ,कितने आंदोलन, कितने विवाद, और इन सब के बाद एक बात अच्छी हुई जो निर्भया के पक्ष में हुई | इतने लंम्बे समय से चली आ रही निर्भया की लड़ाई अब जीत में बदल गई | सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को अपना फैसला सुना दिया जिसके आधार पर उनके गुनाहगारों को मौत की सजा सुनाई गई।


सर्वोच्च न्यायालय के फैसले पर पीड़िता की मां व पिता ने खुशी जताई और कहा कि उनका विश्वास भारतीय न्यायपालिका के प्रति बढ़ा गया हैं | इससे ये साबित होता हैं कि Rapist के लिए मौत कि सज़ा सही हैं | 

Letsdiskuss


0
0

Marketing Manager | पोस्ट किया


मैं आपके उत्तर से काफी हद तक सहमत हूँ कंचन जी मगर सजा देने से लड़कियों की सुरक्षा तो नहीं बढ़ेगी लेकिन जो लोग रह गन्दा काम करते है या उसकी सोच रखते है उनको जरूर एक अच्छा सबक मिलेगा और उनको कानून का डर रहेगा जिससे वह लोग भविष्य में ऐसा करने के बारे में नहीं सोचेंगे |

मैं तो कहता हूँ के हमारे देश का कानून भी दुबई के कानून की तरह सख्त हो ताकि कम से कम कोई अपराध हो |


0
0

Picture of the author