वास्तु के आधार पर साल 2020 में घर में कौन से सुधार करें जिससे लक्ष्मी जी का वास हो ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


A

Anonymous

digital marketer | पोस्ट किया | ज्योतिष


वास्तु के आधार पर साल 2020 में घर में कौन से सुधार करें जिससे लक्ष्मी जी का वास हो ?


0
0




Blogger | पोस्ट किया


जैसा कि साल 2020 का आगमन होने में बस कुछ ही वक़्त बचा हुआ है । इसके साथ ही कई लोग अपने भविष्य को भी जानना चाहते हैं । इतना ही नहीं सभी यह भी चाहते हैं कि उनके घर लक्ष्मी जी का वास रहे । जो लोग वास्तु को मानते हैं उनके लिए यह जानना बहुत ही आवश्यक है कि वास्तु के हिसाब से उन्हें घर लक्ष्मी जी जा आगमन कैसे होगा । आज आपको कुछ ऐसी बातें बताते हैं जिनको मान कर आपके घर में लक्ष्मी जी का वास जरूर होगा ।
Letsdiskuss


- दरारों को भरवाएं :-
अगर आपके घर की दीवारों में दरार है तो उसके भरवा लें क्योकिं वास्तु के आधार पर दीवारों पर दरार होना आपके घर से धन की कृपा को कम करता है । साथ ही दीवारों पर धब्बे, जाले, टूटी खिड़कियां इन सभी को बदलवा दें और घर में किसी भी प्रकार की टूट-फूट हो तो उसको ठीक कराएं।
- रसोई घर में सुधार :-
जैसा कि रसोई आपके घर का सबसे खास हिस्सा होता है तो अगर आप आपने वाले साल में अपने घर में लक्ष्मी जी का वास चाहते हैं तो सबसे पहले आप अपने रसोई घर को सुधारें । रंगों की बात करें तो रसोई घर में लाल, पीला व नारंगी रंग का पेंट करवाएं । रसोई हमेशा साफ़ और स्वच्छ रखें । ऐसा करना आपके घर में लक्ष्मी जी का आगमन करवाएगा ।
दक्षिण-पश्चिम दिशा :-
अपने घर के दक्षिण-पश्चिमी दिशा में कभी घर का मुख्य दरवाजा न हो क्योंकि ऐसा होना घर में नकारात्मक परेशानी लाता है । अगर आपको नींद में की परेशानी, भूत-प्रेत का डर और साथ ही बुरे सपने आते हैं तो इसका मतलब यह साफ़ है कि आपके घर का दक्षिण-पश्चिम का कोना ठीक नहीं है । दक्षिण-पश्चिमी दिशा शनि ग्रह तथा भूमि तत्व से जुड़ा हुआ होता है और इस दिशा में रसोई या मुख्य दरवाजा यह दोनों नही होना चाहिए ।
उत्तर-पश्चिम दिशा :-
उत्तर-पश्चिम दिशा में कभी भी अलमारी,रसोई या कोई भी स्थिर रहने वाली चीज़ें न बनाए । उत्तर-पश्चिम दिशा का यह स्थान चन्द्रमा का करक स्थान है जो कि कभी स्थिर नहीं रखता । इसलिए इस स्थान में हमेशा बाथरूम या गेस्ट रूम बनाना चाहिए । बेचैनी और अन्य परेशानी को दूर करने के लिए यह दिशा शुद्ध रखें ।
इन बातों को ध्यान में रखें और अपने आने वाले साल में लक्ष्मी जी के आगमन की तैयारी कर लें ।



0
0

Picture of the author