पैर में काला धागा बांधने से क्या होता है। - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


English


Aanchal Singh

| पोस्ट किया |


पैर में काला धागा बांधने से क्या होता है।


3
0




| पोस्ट किया


चलिए दोस्तों आज हम आपको बता रहे हैं कि पैर में काला धागा बांधने से होता क्या है।

 अक्सर देखा जाता है कि लड़कियां अपने पैरों पर काला धागा बांध कर रखती है कहा जाता है कि पैर पर काला धागा बांधने से यह बुरी नकारात्मक शक्ति से बचाता है। और किसी के कुंडली में राहु केतु का ग्रह कमजोर होते हैं तो है उन्हें अक्सर काली वस्तु ग्रहण करने के लिए दिया जाता है.।Letsdiskuss


0
0


हम सभी बचपन से ही बुजुर्गो के मुँह से सुनते और देखते आये है कि काला टीका लगाने से बच्चो कों नज़र नहीं लगती है, काला कपड़ा पहनाने से बुरी नज़र नहीं लगती है और बच्चो कों काला धागा बाँधने से नज़र नहीं लगती है। यहाँ पर बहुत ही जबरजस्त सवाल किया गया है कि पैर मे काला धागा बाँधने से क्या होता है? तो चलिए बताते है कि पैर मे काला धागा बाँधने से किसी की बुरी नज़र नहीं लगती है, पैर मे काला धागा बांध कर रखने से नकरात्मक चीजों का प्रकोप नहीं रहता है।Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


अक्सर आपने बहुत सी लड़कियों को देखा होगा कि वह अपने पैरों में काला धागा बांध कर रखती है क्योंकि बहुत सी लड़कियां पैरों में काला धागा बांधने फैशन समझती हैं तो वहीं पर बहुत सी लड़कियां पैर में काला धागा नजर ना लगे इसलिए बांधती है, क्योंकि अक्सर काले कपड़े, और काला धागा हमें बुरी नजर से बचाता है, और ऐसा भी माना जाता है कि यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में राहु और केतु ग्रह कमजोर है तो उसे अपने पैरों में काला धागा बांधना चाहिए, इसलिए अपने कुंडली में ग्रहों की स्थिति मजबूत करने के लिए पैरों में काला धागा बांधने के लिए सलाह दी जाती है।Letsdiskuss


0
0

Preetipatelpreetipatel1050@gmail.com | पोस्ट किया


आइए जानते हैं की काला धागा पैर में क्यों बांधा जाता है।
पैर में काला धागा बांधने से नकारात्मक शक्तिया दूर रहती हैं। छोटे बच्चों को काला धागा इसीलिए बांधा जाता है ताकि उन्हें लोगों की बुरी नजर से बचाया जा सके। लेकिन आज के कुछ लोग पैरों में काले धागे को इसीलिए भी बांधते हैं ताकि पैरों का दर्द कम हो जाए । वैसे तो बहुत से लोग पैरों में काला धागा फैशन के तौर पर भी बांधते हैं।Letsdiskuss

 


0
0

Picture of the author