राधे रानी कौन थी? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


Sks Jain

@ teacher student professor | पोस्ट किया |


राधे रानी कौन थी?


0
0




| पोस्ट किया


पद्म पुराण के अनुसार राधा वृषभानु  नाम गोप की पुत्री थी। और पुराणों के अनुसार राधा कृष्ण की मित्र थी श्री राधा रानी के बारे में जिनका एक बार नाम लेते ही तन मन पावन पवित्र हो जाता है राधा रानी का इतिहास धन्य है और सिर्फ राधा रानी के चरणों की धूल के कण से ही सारे पाप मिट जाते थे और राधा के बिना श्री कृष्ण के नाम का जाप पूरा नहीं होता था और जब संसार में प्रेम की बात होती है तो भगवान श्री कृष्ण और राधा रानी का नाम हमेशा सर्वोपरि होता है.।Letsdiskuss


0
0

prity singh | पोस्ट किया


ब्रह्मावर्त पुराण के अनुसार राधा रानी भगवान श्री कृष्ण के साथ गोलोक में रहते थे 1 दिन राधा ने श्रीकृष्ण को अपनी दूसरी पत्नी वीरजा के साथ देख लिया और नाराज होकर वह श्री कृष्ण को बुरा भला कहने लगी जिससे श्री कृष्ण के सेवक तथा मित्र श्रीदामा को यह बात ठीक नहीं लगी और उसने राधा रानी को पृथ्वी लोक में मनुष्य रूप में जन्म लेने का श्राप दे दिया राधा जी ने मथुरा के रावल गांव में जन्म लिया राधा रानी वृषभानु नामक गोप की पुत्री थी और उनकी मां का नाम कीर्ति था कीर्ति ने अपने गर्भ में वायु को धारण किया हुआ था कीर्ति ने वायु को जन्म दिया लेकिन वायु के बाहर आते ही राधा जी एक कन्या के रूप में प्रकट हो गए राधा रानी श्री कृष्ण की मित्र तथा उनकी प्रेमिका भी थी लेकिन राधा रानी का विवाह रायन के साथ हुआ था रायन श्री कृष्ण का ही अंश था राधा रानी को श्रीकृष्ण से वियोग का श्राप मिला थाLetsdiskuss


0
0

Preetipatelpreetipatel1050@gmail.com | पोस्ट किया


राधा का जन्म बरसाने में हुआ था! उनके पिता का नाम बृषभानु था! राधा रानी श्री कृष्ण भगवान की प्रेमिका थी ऐसा कहा जाता है कि श्री ब्रह्मा जी ने राधा कृष्ण का विवाह कराया था। राधा रानी को पुराणों में वृषभानु राजा की कन्या माना जाता है। लेकिन कई लोग कहते हैं कि जब राजा यज्ञ करने के लिए भूमि को खोद रहे थे तब उनमें कन्या राधा मिली थी! जिसे  वृषभानु ने अपनी पुत्री मान लिया था। राधा कृष्ण का प्रेम बहुत ही मधुर है! इनका प्रेम जन्मो जन्म के लिए माना जाता है!Letsdiskuss


0
0

| पोस्ट किया


राधा रानी का जन्म वास्तव में बरसाना के पास रसाल नामक गांव में हुआ था। लेकिन इस बात से सभी लोग परचित नहीं है। इसलिए सभी लोग उनका जन्म स्थान बरसाना को ही मानते हैं। इनके पिता का नाम  बृजभान  जी है। राधा रानी कृष्ण जी की सबसे प्रिय सखी  हैं। और इन्हें सभी गोकुल वासी अपनी राधारानी मानते थे। राधा और कृष्ण की प्रेम कहानी आज सबके लिए मिसाल बनी थी। क्योंकि इनका प्रेम अद्वितीय था। राधा जी का विवाह आयन के साथ हुआ था। इस बात से सभी लोग परिचित नहीं थे। आज भी कृष्ण के साथ राधा का नाम  लिया जाता है। क्योंकि राधा बिना कृष्ण अधूरे हैं।Letsdiskuss


0
0

Picture of the author