आप भारत की आदर्श बेटियां किसको कहोगे और क्यों ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

भाषा


A

Anonymous

Working (West Delhi Cricket academy) | पोस्ट किया |


आप भारत की आदर्श बेटियां किसको कहोगे और क्यों ?


0
0




Content Writer | पोस्ट किया


हमारे देश में जहाँ बेटियों के पैदा होने को अभिशाप समझा जाता है, वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसे भी हैं जो बेटियों को आसमान की बुलंदियों में देखना चाहते हैं | कहीं तो पिता बेटी के पैदा होने पर उन्हें सिर्फ परेशानी का सबब मानते हैं तो कहीं ऐसे भी पिता हैं, जो बेटी पैदा होने पर गर्व करते हैं |


आइये ऐसी ही कुछ भारत की बेटियों के बारें में जानते हैं -

- कल्पना चावला :- 
कल्पना चावला का जन्म 17 मार्च 1962 को भारत देश के हरियाणा राज्य में हुआ | कितनी अजीब बात है भारत की एक आदर्श बेटी उस जगह जन्मी जहाँ पर आज भी आज भी लडको की अपेक्षा लडकियों की संख्या कम अनुपात में है | कल्पना चावला अपने पिता बनारसी लाल चावला की सबसे छोटी और सबसे प्यारी बेटी थी |

अक्सर आकाश की तरफ देखती रहने वाली कल्पना चावला को आकाश की सैर करने का बहुत शौक था | जो की उन्होंने पूरा भी किया परन्तु इस आदर्श बेटी का यही शौक उसकी जान ले लेगा ये कोई नहीं जानता था | कप्लना चावला ने अपनी पहली अन्तरिक्ष उड़ान 1998 में भरी और इसके साथ ही वह अंतरिक्ष यात्रा करने वाली पहली भारतीय महिला बनी | जिस बात से सभी का सीना चौड़ा हो जाता है |

Letsdiskuss
(Courtesy : yuvaharyana.com )

- पी.टी. उषा :- 
पी. टी. उषा का जन्म 27 जून 1964 को केरल में हुआ | इनका पूरा नाम पिलावुळ्ळकण्टि तेक्केपरम्पिल् उषा हैं | ये बात तो सभी जानते हैं कि इन्हें उड़नपरी नाम से भी जाना जाता है | जब पी.टी. उषा दौड़ती हैं तो सारी दुनिया पीछे रह जाती है | 1985 में एक ही प्रतियोगिता में 5 गोल्ड मैडल जीतने वाली यह पहली भारतीय महिला | आज तक ऐसा रिकॉर्ड कोई नहीं बना पाया | यह भारत की आदर्श बेटियों में एक हैं, जिन्होंने अपने हुनर का लोहा सभी से मनवा ही दिया |

(Courtesy : The Week )


0
0

Picture of the author